इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना ऑनलाइन आवेदन : Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana in 2022

महिलाओं को सशक्त बनाने हेतु सरकार नई नई योजनाओं का संचालन करती है। महिलाओं के लिए राजस्थान सरकार ने भी एक योजना शुरू की है, जिसका नाम है राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना

इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं और उनके गर्भस्थ शिशु को कुपोषण से बचाने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जायेगी।

अपने इस आर्टिकल में हम इस योजना से जुड़ी सारी आवश्यक जानकारी देंगे जिससे आप जान पाएंगे कि Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 क्या है?, इसके लिए पात्रता व डाक्यूमेंट्स, इस योजना के लाभ और इसमें आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया के बारे में, तो पूरा आर्टिकल पढ़िए और लाभ उठाइए।

CM launched Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

राजस्थान बेरोजगारी भत्ता योजना 2022

Table of Contents

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022

इस योजना का शुभारंभ राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी की 103 वी जयंती के विशेष अवसर पर किया गया।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के तहत सरकार गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपये की आर्थिक सहायता देगी। यह सहायता गर्भवती महिला और उसके शिशु को कुपोषण से बचाने और उनकी आर्थिक मदद हेतु शुरू की गयी है।

आपको बता दें कि यह 6000 रुपए की सहायता सरकार एक साथ नहीं बल्कि 5 चरणों में देगी। अभी फिलहाल इस योजना में सिर्फ 4 जिले ही शामिल किए गए हैं लेकिन अब कुछ ही समय मे यह योजना सारे राजस्थान में संचालित की जाएगी। इस स्कीम से गर्भवती मां और बच्चे को पोषण मिल पाएगा।

अब तक इस योजना के अंतर्गत करीब 3.75 लाख महिलाओं को उनके दूसरे बच्चे का जन्म होने पर लाभ मिला है। इस स्कीम का लाभ लेने के लिए आवेदक महिला हेतु कुछ योग्यता मानदंड निर्धारित किए गए हैं जिन्हें पूरा करने पर उस महिला को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

जो भी महिला इस योजना के तहत आवेदन करती है, उन्हें मिलने वाली सहयोग राशि सीधा उनके बैंक अकाउंट में जाएगी अतः आवेदक महिला का बैंक खाता होना आवश्यक है और वह बैंक खाता आधार से भी लिंक होना जरूरी है।

Highlights Of Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022

योजना का नामराजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना
किसने शुरू किया हैराजस्थान सरकार
योजना का उद्देश्यगर्भधारण करने वाली माताओं को सहारा देना
लाभरुपये 6000 के वित्तीय लाभ
आवेदन का तरीकाआवेदन का तरीका

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना में मिलने वाली वित्तीय सहायता

इस योजना में सरकार यह 6000 रुपए की सहयोग राशि कुल 5 किश्तों में प्रदान करेगी। जिसके नियम इस प्रकार से है :-

  • पहली किश्त :- इस योजना के तहत प्रथम किश्त में 1000 रुपए दिए जायेंगे। यह किश्त आवेदक महिला की गर्भावस्था की जांच और रजिस्ट्रेशन पूरा होने पर मिलेगी।
  • दूसरी किश्त:- जब महिला की प्रसव पूर्व जांच पूरी हो जाएंगी, तब दूसरी किस्त दी जाएगी जिसमें भी ₹1000 की राशि मिलेगी।
  • तीसरी किश्त :- गर्भवती महिला को तीसरी किश्त में भी ₹1000 दिए जाएंगे यह किश्त संस्थागत प्रसव होने पर प्रदान की जाएगी।
  • चौथी किस्त:- शिशु जन्म के 105 दिन के बाद जब उसे सभी नियमित ठीक है लग जाते हैं तथा शिशु का जन्म पंजीकरण हो जाता है उस समय चौथी किस्त प्रदान की जाती है जिसमें 2000 रुपए की राशि दी जाएगी।
  • पांचवी किश्त:– यह अंतिम किश्त शिशु के जन्म के 3 महीनों के अंदर परिवार नियोजन के साधन अपनाने पर दी जाती है। इसमें 1000 रुपए की वित्तीय सहायता मिलती है।
इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना ऑनलाइन आवेदन

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 का निर्धारित बजट

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 हेतु राजस्थान सरकार ने 43 करोड़ रुपए तक का बजट तय किया है। इस योजना के तहत स्टेट मिनिरल फाऊंडेशन ट्रस्ट द्वारा फंडिंग होगी और यह माइंस व जियोलॉजी डिपार्टमेंट के लिये कार्य करेगा।

अब तक इसमें 2000 महिलाओं को इसकी प्रथम किश्त के 1000 रुपये दे दिए गए हैं। महिलाओं के लिए बनी इस खास स्किम से करीब 77 हजार महिलाएं लाभ ले पाएंगी।

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022: Phase-I

यह विशेष योजना अभी केवल राजस्थान के 4 Tribal Sub Plan (TSP) जिलों में ही प्रारंभ की गई है। बाद में राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना को सारे राजस्थान राज्य में संचालित किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत phase-I में निम्न जिले आते हैं –

  • उदयपुर
  • डूंगरपुर
  • बंसवारा
  • प्रतापगढ़
  • राजस्थान राज्य सरकार इस योजना को सहरिया बहुल बारां जिले सहित पूरे राज्य में लागू करेगी

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना कार्यान्वयन के लिए Phase-II जिलों की सूची

  • अजमेर
  • अलवर
  • बरन
  • बाड़मेर
  • भरतपुर
  • भीलवाड़ा
  • बीकानेर
  • बूंदी
  • चित्तौड़गढ़
  • चुरू
  • दौसा
  • धौलपुर
  • हनुमानगढ़
  • जयपुर
  • जैसलमेर
  • जालौर
  • झालावाड़
  • झुंझुनू
  • जोधपुर
  • करौली
  • कोटा
  • नागौर
  • पाली
  • राजसमंद
  • सवाई माधोपुर
  • सीकर
  • सिरोही
  • श्री गंगानगर
  • टोंक

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 के मुख्य उद्देश्य

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के विशेष उद्देश्य निम्न प्रकार से हैं:-

  •  राज्य की सभी गर्भवती महिलाओं को सशक्त बनाना।
  •  योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपये की वित्तीय सहायता राशि देना।
  • मां और शिशु को कुपोषण से बचाना।
  • ऑनलाइन रेजिस्ट्रेशन होने से सरलता पूर्वक सहायता राशि लाभार्थी तक पहुंचाना।
  • ऑनलाइन आवेदन होने से टाइम और पैसे की बचत व प्रणाली में पारदर्शिता लाना।
  • गर्भवती महिला और उसके बच्चे को उचित पोषण मिले, इस हेतु सहायता प्रदान करना।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बयान

  • CM ने कहा कि National Food Security Act, 2013 के तहत गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं और बच्चों के पोषण स्तर में सुधार के लिए योजना बनाने का प्रावधान था
  • सीएम ने कहा कि राज्य सरकार की यह अनिवार्य योजना न केवल माताओं और बच्चों में कुपोषण को कम करेगी बल्कि बच्चे के समुचित विकास के लिए माँ के स्वास्थ्य और उसके पोषण स्तर के महत्व के बारे में लोगों में जागरूकता बढ़ाएगी।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 की विशेषताएं और लाभ

इस योजना द्वारा मिलने वाले लाभ और इसकी मुख्य विशेषताएं  इस प्रकार से हैं :-

  • Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 के तहत दूसरी बार जो महिलाएं गर्भवती हैं, उन्हें ₹6000 की वित्तीय सहायता मिलेगी।
  • यह सहयोग राशि उन्हें एक साथ नहीं बल्कि 5 चरणों में दी जाएगी।
  • इस समय Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के अंतर्गत 4 जिले उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा तथा प्रतापगढ़ को शामिल किया गया है। कुछ समय पश्चात यह योजना सारे राजस्थान में शुरू कर दी जाएगी।
  • Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 द्वारा गर्भवती मां तथा उसके शिशु को कुपोषण से बचाया जा सकेगा। 
  • इस स्कीम के लिए 43 करोड रुपए का बजट तय किया गया है।
  • 77000 महिलाओं को इस योजना के तहत  लाभ पहुंचाया जाएगा।
  • इस योजना की अंतिम किश्त परिवार नियोजन के साधन अपनाने पर दी जाएगी, अतः योजना द्वारा  जनसंख्या  नियंत्रण में मदद मिलेगी और लोग परिवार नियोजन अपनाएंगे।
  • इस स्कीम की फंडिंग स्टेट मिनिरल फाउंडेशन माइन्स एंड जियोलॉजी डिपार्टमेंट के तहत होगी।
  • योजना के अंतर्गत जो भी सहायता राशि प्रदान की जाएगी वह राशि डायरेक्ट महिला के बैंक खाते में ही ट्रांसफर कर दी जाएगी।
  • महिलाएं पोषित और सशक्त बनेंगी।
  • महिला के दूसरी दफा गर्भवती होने पर भी उसे योजना का लाभ मिलेगा।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 हेतु योग्यता मापदंड

जो भी महिला Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के लिए आवेदन करने की इच्छुक हैं, उनको नीचे बताए गए योग्यता मापदंड को पूर्ण करना होगा।

  • जो महिलाएं राजस्थान में निवास करती हैं, वही इसमें आवेदन की पात्र होंगी।
  • आवेदक महिला का बैंक अकाउंट होना आवश्यक है और वह बैंक खाता आधार कार्ड से भी लिंक होना जरूरी है।
  • महिला BPL श्रेणी की होनी चाहिए।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 के लिए आवश्यक डाक्यूमेंट्स

  • गर्भवती महिला का आधार कार्ड
  • उनका BPL राशन कार्ड
  • आवेदक महिला के बैंक खाते का विवरण
  • आवेदक महिला के 4 पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक महिला का निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के पेमेंट प्रक्रिया

  • योजना के लिए आवेदन करने से पहले, गर्भवती माताओं को एक बैंक खाता या डाकघर खाता खोलना होगा
  • क्योंकि सरकार स्कीम राशि को सीधे आपके बैंक खाते में सीधे जमा करेगी, इसलिए आपको बैंक खाता रखना होगा
  • सरकार एक बार में पूरी योजना के राशि नहीं देगी, यह चरणों में देगी
  • आपके बैंक खाते में राशि जमा होने के बाद, आपको बैंक से तुरंत एक SMS मिलेगा

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 में आवेदन कैसे करें ?

जो भी महिलाएं Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 के तहत आवेदन करने की इच्छा रखती हैं, उन्हें अभी कुछ समय के लिए इंतजार करने की आवश्यकता है, क्योंकि अभी हाल ही में इस योजना की  शुरुआत की गई है 

अतः इसके लिए ऑनलाइन आवेदन हेतु वेबसाइट का कार्य अभी चल रहा है। जल्द ही आप इस योजना के तहत आवेदन कर पाएंगे। आवेदन प्रक्रिया शुरू होने पर आप इसके ऑनलाइन वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर आवेदन कर सकते हैं।

FAQ

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 किन के लिए शुरू की गई है ?

यह योजना गर्भवती महिलाओं हेतु शुरू की गई है।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 आर्थिक सहायता हेतु कितनी राशि मिलेगी?

इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपए पांच के स्टोर के रूप में दिए जाएंगे।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान राज्य के कौन-कौन से जिलों में शुरू की गई है ?

अभी इस योजना को उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ जिलों में शुरू किया गया है।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 में कितनी महिलाएं लाभ प्राप्त कर सकेंगी ?

इस योजना के अंतर्गत 77000 महिलाओं को लाभ प्राप्त होगा।

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 में कितनी महिलाएं लाभ प्राप्त कर सकेंगी ?

इस योजना के अंतर्गत 77000 महिलाओं को लाभ प्राप्त होगा।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना हेतु राजस्थान सरकार द्वारा कितनी धनराशि का प्रावधान रखा गया है ?

इस योजना के लिए 43 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष तक का प्रावधान रखा गया है।

हमें आशा है की आपको इस योजना से संबंधित सारी जानकारी पसंद आई होगी और आपके लिए लाभदायक रहेगी। 

पाठकों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब इस लेख में दे दिए गए हैं अगर अभी आप इस योजना से जुड़े कोई भी सवाल पूछना चाहते हैं तो कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Leave a comment

Compress JPEG To 50 KB