बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 2021: Beti bachao Beti Padhao Scheme Benefits

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की शुरुवात माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा  22 जनवरी 2015 को हरियाणा के पानीपत से  शुरू किया गया था  जिसमे हरियाणा के 12 जिलों में पंजाब के 11 जिले और दिल्ली में भी ये योजना शुरू किया गया था ।

बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई । इस योजना के शुरुवात के लिए देश के  100 ऐसे जिले चुने गए थे  जहां वर्ष  2011 में जनगणना  में अनुसार देखा गया  लड़को के अपेक्षा लड़कियों की संख्या कम है ।

जिसका मुख्य कारण था लिंग भेदभाव, कन्या भूर्ण हत्या , जन्म के समय लिंग नैदानिक उपकरण का आसानी से  उपलब्धता  लड़की के प्रति भेदभाव आदि  जिस वजह से योजना शुरू करने का मुख्य उद्देश्य ही सरकार का था

Beti bachao Beti Padhao Yojana के तहत लोगो के मानसिकता को बदलने की कोशिश की जाये क्योंकि भारत जैसे देश में जनगणना के अनुसार प्रति 1000 लड़को के संख्या में प्रति 840 लड़कियों की संख्या है

योजना में कई ऐसे  योजनाओं  को शामिल किया गया है जो बेटी के लिए लाभकारी हो  योजना की पूरी   जानकारी पाने  के लिए दिए गए आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़े 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना  केंद्र सरकार ने बेटी को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से शुरू किया हैै प्रधानमंत्री जी द्वारा योजना का एक मंत्र रखा गया है  ” बेटा और  बेटी एक समान है 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्ग्रत बैंक अकाउंट में बेटी के नाम से खाता  खोला जायेगा जो किसी भी सरकारी बैंक या पोस्ट ऑफिस में ये खाता  खुलवा सकते है इस खाते का नाम सुकन्या समृद्धि योजना रखा गया है जिसमे बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का लाभ लेने के लिए इस  खाता  को  खुलवाना पड़ेगा I

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट खोलने का  निर्धारित उम्र 10  साल  रखा गया है I  इस खाते  में 14 वर्ष तक पैसे जमा किया जा सकता है तथा उन पैसो को बेटी के 18  साल पुरे होने के बाद 50 % पैसा निकाल  सकते है तथा 21  साल के बाद पूरा पैसा इस्तेमाल  किया जा सकता है I  

Kanya Sumangala Yojana 2021

बेटी बचाओ योजना के नाम पर फ्रॉड

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के नाम पर बहुत सी शिकायते दर्ज की गई है जिसमे बताया गया है एक मात्र 250 रुपए का फॉर्म दिया जा रहा है ऐसा बताया गया है उस फॉर्म को जमा करने के बाद सरकार के द्वारा बेटियो को शादी के लिए  2 लाख रुपए दिए जाएंगे जिसमे तय उम्र सीमा 8 वर्ष से 32 वर्ष बताया गया है ।

जिसके कुछ मामले अन्य राज्यो में देखने को मिला है जिसमे अलग अलग तरह से लोगो को झांसा दिया गया है

जैसे राष्ट्रीय बालिका दिवस पर सोशल मीडिया में प्रधान मंत्री को फोटो टैग करने से मिलेंगे 2 लाख रुपए किसी ने बताया उनसे 250 रुपए लिए गए है तथा महिला एवम बाल विकास मंत्रालय के पता पर दिया गया फॉर्म भेजने को कहा गया है वास्तविक में ऐसा नहीं है ।

फॉर्म  में दी गई जानकारी के तहत महिला एवम बाल विकास मंत्रालय ने बताया है यह पूर्ण रूप से फर्जी फॉर्म है कुछ अनाधिकृत साइट बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नाम पर नगद प्रोत्साहन कर रही है जो की भारत सरकार की और से व्यक्तिगत नकद हस्तांतरण के लिए  धन देने की कोई व्यवस्था नहीं है 

साथ ही सरकार ने कहा  बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को सख्ती से पालन करना है अगर कोई ऐसा व्यक्ति मिलता है तो उसकेबीपी खिलाफ केस दर्ज कराए 

Beti bachao Beti Padhao Scheme Highlights

योजना का  नाम बेटी बचाओ  बेटी  पढ़ाओ योजना
योजना  शुरू होने की तिथि25 जनवरी 2015
किसके द्वारा लांच  किया गया माननीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी
लाभार्थी  बेटियाँ ( लड़की)
उद्देश्य बेटी बचाना और उनका भविष्य  सुधारना 
योजना  का  रजिस्ट्रेशन  लिंक https://wcd.nic.in/bbbp-schemes

 बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ  योजना में धनराशि कितना है 

 यह एक छोटी बचत स्कीम है जिसमे बेटी की शिक्षा और शादी के  लिए  पैसे जमा करना  होता है  जिसमे

उनको 7.6 प्रतिशत का ब्याज दिया जाता है। जिसमे सालाना डेढ लाख रुपए तक की ऋषि जमा की जा सकती है जिस पर कोई टैक्स नहीं लगेगा ।

सुकन्या खाता खुलवाने  के लिए मात्र 250 रुपए काफी है जिसमे एक वित वर्ष में कम से कम 250 रुपए जमा करना पड़ेगा इस खाते में 15 साल तक पैसा जमा किया जा सकता है लेकिन अगर बेटी 9 साल की है तब पैसा 24 साल तक जमा किया जा सकता है।

 अगर पर महीना अकाउंट में 1000 रुपए जमा करते है तो प्रतिवर्ष 12000 रुपए के मुताबिक 14 वर्ष में 1,68,000 रुपए की धनराशि जमा की गई जिस मुताबिक बेटी के 21 वर्ष होने पर उसे 6,07,128 रुपए की धन राशि मिलेगी 

नोट ( अंतिम वर्ष में बताया गया पूरा राशि 6,07,128 भविष्य में  अलग भी हो सकता है अगर ब्याज दर में बढ़ोतरी होती है या कमी उस स्थिति में ) 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का उद्देश्य

1 समाज में बेटियों को बराबरी का स्थान देना –  जिस तरह समाज में बेटियों के बराबर  बेटो को विशेष 

अधिकार दिए जाते है उन अधिकारों को बराबर का हक मिलना चाहिए जो की इस योजना के मुख्य उद्देश्य में से एक है । 

2 बेटियों को उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए उच्च शिक्षा की सुविधा देना –  आज भी कई ऐसे जगह है जहां बेटियो को पढ़ाया नही जाता ऐसा माना  जाता  है  घर  का  काम ही उनके ज़िन्दगी का उद्देश्य  है

जिससे  लड़कियाँ  शिक्षित  नहीं हो पाती और वो भविष्य में खुद को शिक्षा के नजरिए से  सुरक्षित नहीं कर पाती जिस कारण सरकार ने इस योजना के अंतर्गत बेटियों  को  पढ़ाने  पर  जोर दिया  है  । उनके पढाई का खर्च भी सरकार  उठाएगी साथ ही साथ स्कूल में अन्य सेवाएं भी दिया जायेगा I  

3 भूर्ण हत्या रोकना -कई गांव ऐसे है जहां गैर कानूनी तरीके से गर्व में बेटी होने का पता लगाया जाता है उसके बाद बेटी को गर्व में ही मार दिया जाता है जिससे दिन प्रतिदिन लड़कों के अनुपात में लड़कियों की संख्या घटती ही जा रही है जो की एक चिंता की विषय है I 

4 बेटी के प्रति समाज के गलत सोच को सुधारना-बेटी के आगे ना बढ़ पाने का कारण यही है कि समाज का नजरिया उसके प्रति सही नहीं है ।

किसी भी कार्य को करने के लिए उन्हें ना जाने कितने समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है  जो बेटी को आगे बढ़ने में बाधा डाल रही है इसलिए सरकार इस टॉपिक पर जरूरत से ज्यादा काम कर रही है

जैसे लोगो के मानसिकता को सुधारने के लिए बेटियो के ऊपर अलग अलग प्रकार के वीडियो पोस्टर स्लोगन आदि काम किया जा रहा है।

5 लिंग  अनुपात को कम  करना – भारत जैसे देश में कई ऐसे जिले है जहां जनगणना के मुताबिक लड़को की प्रति 1000 के संख्या में लड़की की संख्या मात्र 800 है जो अधिक ही चिंता का विषय है

6 पितृसत्ता  को खत्म करना-  पितृसत्ता एक सामाजिक व्यवस्था है जहाँ पिता  के  चलन को बढ़ावा दिया जाता है हालाँकि ये गलत नहीं है लेकिन कई  जगह देखा गया  है

पिता चलन पिता की गलत मानसिकता की वजह से स्त्री आगे बढ़ने  में असमर्थ है जिस  वजह से सरकार का उद्देश्य है  परिवार में माता- पिता  का सुझाव, चलन बराबर का हो I 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के नियम 

सरकार  ने बताया बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना  के अंतरगर्त कुछ नियम रखे  गए  है जिसमे उन्ही लोगो मिलेगा  जो इस प्रकार  है I

1 आवेदन के समय बेटी की आयु 10 वर्ष से कम हो 

2 RBI के नियम के तहत इस योजना का लाभ NRI व्यक्ति नहीं उठा सकते 

3 बेटी के माता पिता के द्वारा ही आवेदन किया जाएगा ।

4 इस योजना के अंतर्गत प्रति वर्ष कम से कम सौ रुपए जमा करना अनिवार्य है 

5 14 वर्ष तक धनराशि जमा करना अनिवार्य होगा 

6 18 वर्ष की आयु के बाद ही इन पैसों का  लाभ उठाया जा सकता है जिसमे शर्त है 50% राशि 18 वर्ष के बाद निकाल सकते है पूरे राशि का लाभ उठाने के लिए बेटी के 21 वर्ष के बाद ही वो धन राशि निकाला जा सकता है 

लाभ 

 वैसे  तो बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना  में  बहुत  ही लाभ है  जिसमे  से कुछ  लाभ  यहाँ दर्शाया  गया  है  बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का लाभ 

  • प्रधान मंत्री सुकन्या समृद्धि योजना में मिलेंगे कई लाभ जैसे लड़की पैदा होने पर खोला जाएगा खाता 
  • 10 साल की उम्र तक बेटी का बैंक खाता खोला जायेगा  
  • अकाउंट में पर वर्ष डेढ़ लाख रुपए तक जमा कर सकते है 
  • 4 बेटी के नाम पर खाते पर इनकम टैक्स की छूट भी मिलेगी जिसमे  बैंक में  रखे  पैसे  पर  कोई इनकम  टैक्स नहीं  कटेगा 
  • 5 इस योजना के अंतर्गत बेटियों  को  जमा  की हुई राशि  पर  अन्य  जमा योजना से ज्यादा ब्याज मिलेगा 
  • 6 लड़कियों की भी आर्थिक स्थिति मज़बूत होगी
  • 7  बेटियों का शिक्षा स्तर सुधरेगा
  • 8 इससे बेटियों को वित्तीय सहायता मिलेगी
  • 9 बाल विवाह में कमी होगी 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत आने वाली उपयोजनाओं के नाम 

1 सुकन्या समृद्धि योजना 

2 लाडली योजना 

3 क्न्या श्री प्रकल्प योजना 

4 लाडली लक्ष्मी योजना 

5 धनलक्ष्मी योजना 

इंट्रो  BBBP के अंतर्गत तीन मंत्रालयों का संयुक्त प्रयास

1 महिला एवम बाल विकास 

2 स्वास्थ्य एवम परिवार कल्याण

3 मानव संसाधन विकास

विशेषताएं

जन अभियान 

इस अभियान के अंतर्गत जन्म लेने वाली बच्ची के देखभाल और पोषण में कोई भेदभाव ना हो उसका देखभाल इस ढंग से की जाए ताकि वो देश में गौरवान्वित बन सके । 

इस अभियान की शुरुवात समाज  के प्रभाव से ही शुरू किया गया था जो की राष्ट्रीय स्तर पर शुरू किया गया था ।

सीएसआर के तहत 100 चुने गए सभी राज्यों और केंद्र प्रशासित प्रदेशों को सम्मलित करते हुए ( मानव संसाधन विकास तथा परिवार मामले के मंत्रालयों ने लड़कियों की शिक्षा और उनके अस्तित्व के सुरक्षा की देख भाल करना समाज में बिना भेदभाव के उनको आगे बढ़ने में मदद करना तथा लोगो के सोच को सुधारना।

लक्षित समूह 

प्राथमिक वर्ग युवा तथा नवविवाहित जोड़े गर्भवती और धात्री माताएं

द्वितीयक वर्ग  युवा  लड़के और लड़कियां  सास ससुर डॉक्टर नर्सिंग होम  

तृतीयक वर्ग  मीडिया चिकित्सा संघ उद्योग संघ आम जनता  धार्मिक नेता संगठन उप

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना में आवश्यक दस्तावेज 

1 जन्म प्रमाण पत्र 

2 बेटी के माता  पिता का पहचान पत्र 

3 निवासी पता का प्रमाण 

4 मोबाइल नंबर 

5 पासपोर्ट साइज फोटो
6 SSY खाता खुलवाने का फॉर्म

आवेदन कैसे करे 

बता दे बेटी के जन्म से लेकर 10 साल तक कभी भी

 खाता खुलवा सकते है । यह आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनो मोड में उपलब्ध है 

1 महिला और बाल विकास मंत्रालय की ऑफिशियल वेबसाइट  दिए गए लिंक को क्लिक कर सीधे वेबसाइट पर विजिट कर सकते है । 

2 होम पेज पर स्कीम के ऑप्शन पर क्लिक करे जहां आपको women Empowerment scheme का ऑप्शन दिखेगा उस पर क्लिक करे

3 आपके सामने नया पेज खुल जायेगा जिसमे बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ स्कीम पर क्लिक करे 

4 उसके बाद पूछी गई जानकारी भरकर फॉर्म को सबमिट करें जिससे आप भी   बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना  का लाभार्थी बन सकते है । 

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ ऑफलाइन आवेदन 

सबसे पहले किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस  से सुकन्या समृद्धि योजना का फॉर्म ले यह एक प्रकार से अकाउंट है जिसमे आप अपनी  बेटी के लिए पैसे जमा करेंगे 

2 सभी मांगे गए दस्तावेज फॉर्म के साथ लगा कर फॉर्म में पूछी गई  जानकारी भरकर फॉर्म में  भरकर फॉर्म सबमिट  करे I  

बेटी बचाओ  बेटी पढ़ाओ APP

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंदर सरकार ने जनता के सुविधा के लिए APP लॉन्च की है जिसका  नाम है “ BETI BACHAO BETI PADHAO  ” योजना  जिसे C- DAC Hydrabad  टीम ने बनाया है इस एप्प खोलने के बाद अलग – अलग ऑप्शन  दिए गए  है जो है “ why, what, How, where, Audio, video, I commit to , Connect with us, share your story, view the message”


Audio, और  video के ऑप्शन अलग अलग है  जिसमे वीडियो के ऑप्शन में आप अपनी प्रेरणादायक वीडियो डाल सकते  है  तथा ऑडियो भी सुन  सकते हैI  इस  एप्प को डाउनलोड करने के लिए लिंक नीचे दिए गए है I https://play.google.com/store/apps/details?id=com.cdac.betibachaobetipadhao&hl=en_IN

Contact  us 

उम्मीद है  आर्टिकल  में दी गयी जानकारी से आपको बेटी पढ़ाओ  बचाओ  योजना की  पूरी  जानकारी मिल गई है फिर भी अगर किसी भी समस्या का सामना करना पर रहा है तो दिए गए नंबर पर संपर्क करे 

  • Phone – 0112381611
  • Women help line number – 181
  • Child helpline – 1098

Leave a comment

Scholarship Status: NSP Portal